Categories
Latest News

कांके अंचल कार्यालय का कारनामा, पंजी-2 में छेड़छाड़ कर जमीन दलालों को पहुंचाया गया लाभ, कई पीड़ितों ने कर्मचारी पर लगाया घुस मांगने का आरोप

50

रिपोर्ट- वसीम अकरम…

राँचीः कांके अंचल कार्यालय का विवादों से घीरे रहना आम बात हो गया है। यहां अपनी जमीन की समस्या को लेकर आम लोग तो चप्पल घीस ही रहे हैं, पंचायत जन प्रतिनिधियों की भी सीओ कार्यालय का चक्कर लगाते-लगाते चप्पल घीस चुका है। पंचायत जन प्रतिनिधि बताते हैं कि, यहां दलाल से लेकर कर्मचारी और सीओ तक को चढावा चढ़ाना पड़ता है, तब काम होता है, और जो लोग चढ़ावा नही चढ़ाते हैं, वे लोग इस उम्मीद पर की कभी ना कभी तो बिना चढ़ावे का काम होगा, चप्पल घीसवाते रहते हैं।

रशीद काटने के लिए अंचल कार्यालय में भेजा गया आदेश का कॉपी.

अर्जुन साहू पिछले 2 वर्षों से लगा रहे हैं अंचल कार्यालय का चक्करः

कांके प्रखंड के होचर निवासी, अर्जुन साहू पिछले 2 वर्षों से अंचल कार्यालय का चक्कर लगा रहे हैं। उन्होंने बताया कि, उनके जमीन की दाखिल-खारिज का केस बार-बार रिजेक्ट कर दिया जा रहा है। अर्जुन के पूर्वजों ने वर्ष 1937 में हुसीर मौजा में 1 एकड़ 77 डिसमिल जमीन आदिवासी खाता की खरीदी थी। एसएआर कोर्ट, मुंसिफ कोर्ट, विधि शाखा, अपर समाहर्ता, एलआरडीसी ने उनकी जमीन को सही बताया है। जमीन पर किसी आदिवासी की कोई आपत्ति भी नहीं है, इसके बाद भी उनके केस में आदिवासी खतियान की जमीन बताकर सीओ, द्वारा दाखिल-खारिज का केस रिजेक्ट कर दिया जा रहा है।

दलाल के माध्यम से गोवर्धन बैठा ने दाखिल-खारीज के एवज में मांगा था 20 लाख रुपयेः अर्जून साहू भुक्तओगी  

अर्जुन साहू ने हल्का-6 के राजस्व कर्मचारी गोवर्धन बैठा पर आरोप लगाते हुए कहा कि कुछ माह पूर्व गोवर्धन बैठा अपने दलालों के माध्यम से मुझसे 20 लाख रुपये की मांग किये थें, और कहलवाया था कि रुपये दोगे तो काम तुरंत हो जाएगा। मैंने भूमि से संबंधित उच्च अधिकारियों के आदेश की कॉपी भी अंचल कार्यालय को मुहैया कराया है, इसके बावजूद पैसे ना दे पाने की वजह से मेरा दाखिल खारिज नहीं हो रहा।

विजय कुमार साहू के परिजन के नाम खतियान की कॉपी, जिससे किया गया छेढ़छाड़.

कर्मचारी, गोवर्धन बैठा ने ऑफलाइन पंजी-2 रिकॉर्ड के साथ किया है छेड़छाड़ः विजय साह, भुक्तभोगी

वहीं होचर निवासी विजय साहू ने अंचलाधिकारी और राजस्व कर्मचारी गोवर्धन बैठा पर 2 एकड़ 42 डिसमिल की जमीन पर पंजी-टू में छेड़छाड़ कर दूसरे के नाम जमीन करने का आरोप लगाया है। इस संबंध में पीड़ित ने रांची उपायुक्त से न्याय की गुहार लगाई है। विजय साहू ने बताया कि हल्का-6 के कर्मचारी गोवर्धन बैठा ने खाता नंबर 1 प्लॉट नंबर 1329, 1469 कूल रकबा 2 एकड़ 42 डिसमिल जमीन का दिनांक 9/3/2023 को ऑनलाइन रसीद बिना जांच पड़ताल किए ही दूसरे के नाम से काट दिया हैं। विजय साहू ने ये भी आरोप लगाया है कि, हल्का-6 के राजस्व कर्मचारी गोवर्धन बैठा ने उक्त जमीन के ऑफलाइन पंजी-2 रिकॉर्ड के साथ छेड़छाड़ किया है। जबकि पूर्व का ओरिजनल कॉपी मेरे पास है। पीड़ित ने राँची उपायुक्त से राजस्व कर्मचारी द्वारा काटे गए रशीद को तत्काल रद्द करने की मांग की है।

विजय साहू ने बताया कि, उक्त जमीन पर दासो मुंडा का मात्र 20 डिलमिल जमीन पर कब्जा है, बाकि जमीन हमलोगों का है, जिस पर दासो मुंडा के वंशजों का कोई दखल कब्जा नहीं है। जमीन का अंचल कार्यालय में R/27 रिकॉर्ड पर कोई प्रमाण नहीं है। उक्त जमीन का जाली डीड, जो दासों मुंडा के पास है, उसकी जांच अंचल कार्यालय द्वारा नहीं किया गया है। इन सभी कारणों से प्रमाणित होता है कि ऑनलाइन पंजी-टू गलत रूप से चढ़ाया गया है। पीड़ित ने राँची उपायुक्त से गुहार लगाते हुवे मांग किय है कि, उक्त मामले का पुनः जांच कर संबंधित अधिकारियों पर कार्रवाई किया जाए।

जानकारी देते चले कि कांके अंचल के राजस्व कर्मचारी गोवर्धन बैठा पर पूर्व में भी पीड़ितों द्वारा भ्रष्टाचार का आरोप लगाया गया है। इसके बावजूद अब तक गोवर्धन बैठा पर कोई जांच नहीं किया गया है। किसी भी तरह की कार्रवाई नहीं की गई है।

7 सालों से हर दूसरे दिन अंचल कार्यालय का परिक्रमा कर रही हैं पूनम देवीः

कांके प्रखंड के मालश्रृंग पंचायत की पंचायत समिति सदस्य, पूनम देवी ने कांके अंचल पर बड़ा आरोप लगाते हुए कहा कि, काके अंचल पूरी तरह भ्रष्टाचार का अड्डा बना हुआ है। यहां दलाल हावी हैं। जो लोग पैसे देते हैं, उन्हीं का काम होता है। कांके अंचलाधिकारी दिवाकर प्रसाद द्वेदी पूरे अंचल को दलालों का अड्डा बना कर रखे हुए। मैं पिछले 7 सालों से अपनी जमीन का ऑनलाइन चढ़ाने के लिए अंचल कार्यालय का चक्कर लगा रही हूं। मैं एक आदिवासी महिला हूं, और एक पंचायत जनप्रतिनिधि भी हूँ, फिर भी मेरा काम नहीं किया जा रहा है। हर दिन मुझे दूसरे दिन आने के लिए कहा जाता है, और मैं पिछले सात सालों से यहां चक्कर लगा रही हूं।

कर्मचारी, गोवर्धन बैठा से संपर्क नहीं हो सकाः

उपरोक्त मामले पर कांके अंचल कार्यालय, हलका-6 के कर्मचारी गोवर्धन बैठा के दो मोबाईल न. 7544081533 और 6201569578 पर संपर्क किया गया, लेकिन उनसे बात नही हो सकी। कर्मचारी गोवर्धन बैठा का मोबाईल न. 6201569578 बंद था और मोबाईल न.7544081533 आउट ऑफ रेंज पाया गया, जिसके कारन उनसे उनक पक्ष नहीं लिया जा सका।

By taazakhabar

"TAAZA KHABAR JHARKHAND" is the latest news cum entertainment website to be extracted from Jharkhand, Ranchi. which keeps the news of all the districts of Jharkhand. Our website gives priority to news related to public issues.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *